Jodhpur News latest news

IAS SUCCESS STORY: पूरे देश में पहली रैंक लाने वाली श्रुति शर्मा ने दिए UPSC क्लियर करने के खास टिप्स, बताया- ये दो चीजें सबसे जरूरी

IAS SUCCESS STORY: यूपीएसएस क्लियर (UPSC EXAM) करना अपने आप में ही एक बड़ा लक्ष्य है। दूसरे ही प्रयास में पूरे देश में नंबर 1 रैंक हासिल करने वाली श्रुति शर्मा (AIR 1 Shruti sharma) ने UPSC की तैयारी कर रहे उम्मीदवारों के लिए कुछ खास टिप्स (IAS SUCCESS TIPS) शेयर किए है। उन्होंने बताया है कि किस तरह यूपीएससी परीक्षा में सफल हो सकते है।

IAS SUCCESS STORY

बता दें कि श्रुति शर्मा (IAS Shruti Sharma) उत्तर प्रदेश के बिजनौर जिले की रहने वाली है। उन्होंने UPSC 2021 परीक्षा में टॉप किया है। श्रुति शर्मा ने दूसरे प्रयास में यूपीएससी में पहली रैंक हासिल की है।

Also Read:>>>Rajasthan High Court LDC Exam Date Notice राजस्थान हाई कोर्ट एलडीसी भर्ती की एग्जाम दिनांक अपडेट

रैंक 1 की उम्मीद नहीं थी

एक इंटरव्यू के दौरान श्रुति शर्मा ने कहा, “मैं अभी भी ये सोच नहीं पाती हूं कि मैंने पहली रैंक हासिल की है। यह एक अच्छा एहसास है। मुझे रैंक 1 की उम्मीद नहीं थी। मैं बहुत चिंतित थी। मैं बहुत खुश हूं, लेकिन मेरे लिए यह विश्वास करना कठिन है कि मैंने परीक्षा में टॉप किया है, ”

UPSC के लिए ये 2 चीजे जरूरी

श्रुति ने बताया अगर आप यूपीएससी की परीक्षा क्लियर करना चाहते हैं तो आपके भीतर स्ट्रांग विल पावर और उचित रणनीति का होना सबसे ज्यादा जरूरी है। परीक्षा को पास करने के लिए इन दो चीजों का होना सबसे ज्यादा जरूरी है। अपनी तैयारी में अपना 100 प्रतिशत पूरा ध्यान देना चाहिए। उन्होंने कहा, ” क्लियर गोल सेटिंग, पूर्ण संकल्प और स्ट्रांग विल पावर से आप इस परीक्षा में सफलता हासिल कर सकते हैं। परीक्षा के लिए कैसे तैयारी की, इस बारे में बात करते हुए, श्रुति ने कहा, “इस सफर के लिए बहुत मेहनत और धैर्य की आवश्यकता थी।”

श्रुति ने कहा, “एक उम्मीदवार के पास एक उचित रणनीति होनी चाहिए और उसे सफल होने के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन मेटेरियल की पढ़ाई करना जारी रखना चाहिए। परीक्षा की तैयारी के लिए किसी स्पेशल कोचिंग के लिए जाने और घर से दूर रहने की जरूरत नहीं है।”

Also Read:>>>CISF Constable Tradesman Recruitment सीआईएसएफ कांस्टेबल ट्रेडमेन 787 पदों पर भर्ती

स्त्रोत सीमित रखने चाहिए

श्रुति ने अपनी सफलता के पीछे की रणनीति के बारे में इंटरव्यू में बात करते हुए कहा था “यह सफलता पढ़ाई में बिताए घंटों की संख्या के बारे में नहीं है; यह अध्ययन की गुणवत्ता के बारे में है। पढ़ना महत्वपूर्ण है, लेकिन घंटे गिनना नहीं है। रणनीति भी महत्वपूर्ण है, इसलिए अध्ययन करते समय अपने स्रोतों को सीमित रखना चाहिए। मेरे नोट्स, समाचार पत्र और अभ्यास उत्तर लेखन ने किताबों के अलावा मेरी बहुत मदद की।”


WhatsApp Group

Join Now

Telegram Group

Join Now

 

Leave a Comment