जोधपुर हिंसा पर सीएम गहलोत ने बुलाई आपात बैठक, लिया बड़ा फैसला

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने साम्प्रदायिक सद्भाव और भाईचारे को नुकसान पहुंचाने वाली घटनाओं के लिए ज़िम्मेदार असामाजिक तत्वों की पहचान कर उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई के निर्देश दिए हैं.

जोधपुर हिंसा पर सीएम गहलोत ने बुलाई आपात बैठक, लिया बड़ा फैसला
जोधपुर हिंसा पर सीएम गहलोत ने बुलाई आपात बैठक, लिया बड़ा फैसला

Jaipur: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने साम्प्रदायिक सद्भाव और भाईचारे को नुकसान पहुंचाने वाली घटनाओं के लिए ज़िम्मेदार असामाजिक तत्वों की पहचान कर उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई के निर्देश दिए हैं.

मुख्यमंत्री ने जोधपुर में हुई घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा कि प्रदेश में कहीं भी साम्प्रदायिक सौहार्द्र को प्रभावित करने वाली घटना से समाज में शांति एवं कानून व्यवस्था को क्षति पहुंचती है. उन्होंने कहा कि अपराधी चाहे किसी धर्म, जाति या वर्ग का हो अपराध में उसकी संलिप्तता पाये जाने पर उसे बख्शा नहीं जाए. मुख्यमंत्री ने कहा कि राजस्थान में सभी समाज और धर्मों के लोग सभी त्योहारों को प्रेम और भाईचारे से मनाते आए हैं और विशेषकर जोधपुर अपनी अपनायत के लिए जाना जाता है.

यह परंपरा बनी रहनी चाहिए, उन्होंने आमजन से शांति बनाए रखने की अपील की. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने गृह राज्यमंत्री राजेन्द्र सिंह यादव, जोधपुर के प्रभारी मंत्री सुभाष गर्ग, अतिरिक्त मुख्य सचिव गृह अभय कुमार, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) हवासिंह घुमरिया को हेलिकॉप्टर से जोधपुर जाने भेजा है. गहलोत ने मुख्यमंत्री कार्यालय पर हुई उच्चस्तरीय बैठक में जोधपुर और हाल में हुई इस प्रकार की घटनाओं पर चिंता जाहिर करते हुए पुलिस और प्रशासन को शांति व्यवस्था बनाए रखने की दिशा में आवश्यक कदम उठाने के निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि थाना स्तर पर असामाजिक तत्वों को चिन्हित कर उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाए.

साथ ही, सोशल मीडिया पर भ्रामक संदेश फैलाने वाले तत्वों की पहचान कर उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाए.

उन्होंने जल्द ही प्रदेश के सभी थाना स्तर पर कम्यूनिटी लाइजन ग्रुप की बैठक आयोजित कर विभिन्न समुदायों के बीच शांति का माहौल कायम करने और कम्यूनिटी पुलिसिंग को बढ़ावा देने के निर्देश दिए. बैठक में मुख्य सचिव ऊषा शर्मा, अतिरिक्त मुख्य सचिव गृह श्री अभय कुमार, डीजी इंटेलीजेंस उमेश मिश्रा, एडीजी क्राइम आरपी मेहरड़ा, एडीजी कानून-व्यवस्था हवासिंह घुमरिया सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे.

मुख्यमंत्री ने बैठक में न केवल अधिकारियों से सिलसिलेवार ढंग से घटना का फीडबैक लिया बल्कि CMO में बने कंट्रोल रूम के जरिए CCTV के माध्यम से जोधपुर शहर के ताज़ा हालातों का भी जायज़ा लिया. दरअसल, आज मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का आज जन्मदिन था CM आवास पर विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन होना था, लेकिन घटना की संवेदनशीलता को देखते हुए CM ने मुख्यमंत्री आवास पर आयोजित सभी कार्यक्रम स्थगित कर दिए थे और घटना को लेकर उच्च स्तरीय बैठक की.

Leave a Comment